(Indian Geography) Part – 1

आज की हमारी इस पोस्ट में हम आपको भारत का भूगोल ( Indian Geography ) से संबंधित Most Important Question and Answer बताने जा रहे हैं जो कि हर तरह के Competitive Exams जैसे SSC, UPSC, PSC आदि के लिये बेहद महत्वपूर्ण है| 
 
भारत का भूगोल - भारत का भौतिक स्वरुप ( Indian Geography ) Part – 1

भारत का सामान्य ज्ञान

भारत का भूगोल - भारत का भौतिक स्वरुप 

  • सम्पूर्ण भारत का अक्षांशीय विस्तार 6°4' से 37°6' उत्तरी अक्षांश के मध्य है| 
  • भारत का क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किमी है| 
  • क्षेत्रफल के हिसाब से भारत दुनिया का 7वा सबसे बड़ा देश है| जबकि जनसँख्या के हिसाब से भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है| 
  • क्षेत्रफल की दृस्टि से भारत से बड़े छः देश हैं - रूस, कनाडा, चीन, अमेरिका, ब्राज़ील, और ऑस्ट्रेलिया
  • भारत का क्षेत्रफल पूरी दुनिया का 2.42% है| 
  • भारत का उत्तर से दक्षिण में विस्तार 3214 किमी और पूर्व से पश्चिम में विस्तार 2933 किमी है| 
  • भारत की स्थल सीमा की लम्बाई 15200 किमी है और समुद्री सीमा की लम्बाई 7516.5 किमी है| भारत के मुख्य भूमि के तटीय भाग की लम्बाई 6100 किमी है|
  • भारतीय उपमहाद्वीप मूलतः एक विशाल भूखंड का भाग का था गोंडवाना लैंड
  • भारतीय उपमहाद्वीप विभाजित है – 4 प्राकृतिक प्रदेशों में

भारत के पड़ौसी देश और भारत के साथ उनकी सीमा की लम्बाई - Neighboring countries and their borders with India



देश 

लम्बाई  (किमी)

सीमा से लगे भारतीय राज्य 

बांग्लादेश 

4096

असम, मेघालय, मिज़ोरम, त्रिपुरा व प. बंगाल 

चीन 

3488

लदाख UT, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम, व् अरुणाचल प्रदेश 

पाकिस्तान 

3323

लदाख UT, जम्मू और कश्मीर UT, पंजाब, राजस्थान, व्  गुजरात 

नेपाल 

1751

उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, प. बंगाल, सिक्किम 

म्यांमार

1643

अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, मणिपुर, नागालैंड

भूटान 

699

सिक्किम, प.बंगाल, असम और अरुणाचल प्रदेश

अफ़ग़ानिस्तान 

106

लदाख UT (पाकअधिकृत)

 
  • भारत के कुल 17 राज्य पडोसी देशों की सीमा से लगते हैं| 
  • भारत की जलीय/समुद्री सीमा 7 देशों से लगती है- पाकिस्तान, मालदीव, श्रीलंका, बांग्लादेश, म्यांमार, थाईलैंड और इंडोनेशिया
  • भारत का सबसे दक्षिणी बिंदु इंदिरा पॉइंट है जो निकोबार द्वीप समूह में स्थित है| पहले इसका नाम पिगमिलियन पॉइंट था| यह भूमध्य रेखा से 876 किमी दूर स्थित है| 
  • सबसे दक्षिणी बिंदु इंदिरा कॉल है जो लद्दाख UT में हैं| 
  • भारत का सबसे पूर्वी भाग वालांगू, अरुणाचल प्रदेश में है| 
  • वही सबसे पश्चिमी भाग सरक्रीक, गुजरात में है|

भारत का भूगोल - Indian Geography one liner

  •  भारत और चीन की सीमा को अरुणाचल प्रदेश में मैकमोहन रेखा कहते हैं| इसका निर्धारण 1914 में शिमला समझौते में किया गया था| 
  • भारत और अफ़ग़ानिस्तान के बीच डूरण्ड रेखा है जिसका निर्धारण 1896 में में सर डूरण्ड द्वारा किया गया था| अब यह रेखा पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के बीच है| 
  • भारत और पाकिस्तान के बीच रेडक्लिफ़ रेखा है जो 15 अगस्त 1947 को सी. जे. रेडक्लिफ़ द्वारा निर्धारित की गई थी| 
  • श्रीलंका भारत से पाक जलसंधि और मन्नार की खाड़ी द्वारा अलग होता है| 
  • श्रीलंका के बाद भारत का सबसे निकटतम समुद्री पडोसी है इंडोनेशिया
  • वह भारतीय राज्य जिसकी अधिकतम सीमा म्यांमार से स्पर्श करती है –  अरुणाचल प्रदेश
 
  • भारत का मानक समय मिर्ज़ापुर से गुजरने वाली 82.5° पूर्वी देशांतर रेखा को माना गया है| यह रेखा 5 राज्यों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, और आंध्र प्रदेश से होकर जाती है| 
  • कर्क रेखा लगभग भारत के मध्य से गुजरती है| यह 8 राज्यों से होकर जाती है - राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखण्ड, प. बंगाल, त्रिपुरा और मिजोरम| 
  • पृथ्वी की चुंबकीय विषुवत रेखा त्रिवेंद्रम से गुजरती है| 
  • भारतीय उपमहाद्वीप में सम्मिलित देश है - भारत, पाकिस्तान, नेपाल, और भूटान
 
  • भारतीय राज्यो में गुजरात की तटरेखा सबसे लम्बी है -1663 किमी 
  • भारत के 9 राज्य समुद्र से लगे है- गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, प. बंगाल
  • नार्थ-ईस्ट के राज्यों में नागालैंड, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश,और सिक्किम की सीमाएँ बांग्लादेश से नहीं मिलती हैं| 
  • तीन ओर से बांग्लादेश से घिरा राज्य त्रिपुरा है| इसकी सीमा असम और मिज़ोरम से मिलती है| 
  • संकोश नदी असम और अरुणाचल प्रदेश की सीमा बनती है| 
  • यांग्याप दर्रे के पास से ब्रह्मपुत्र नदी भारत में प्रवेश करती है| 
  • जोजिला दर्रे का निर्माण सिंधु नदी द्वारा, शिपकीला दर्रे का निर्माण सतलज द्वारा, जेलप्ला दर्रे का निर्माण तीस्ता नदी द्वारा हुआ है|

हिमालय का भौतिक स्वरुप

  • हिमालय की रचना समांतर वाले श्रेणियों से हुई है, जिस में से प्राचीनतम श्रेणी है –  वृहत हिमालय श्रेणी
  • उत्तर भारत के उप हिमालय क्षेत्र के सहारे फैले समतल मैदान को कहा जाता है भावर
  • हिमालय का पर्वत पदीय प्रदेश है शिवालिक
  • शिवालिक पहाड़ियां हिस्सा है –  हिमालय का
  • शिवालिक श्रेणी का निर्माण हुआ सेनोजोइक (प्लायोसीन) युग में
  • शिवालिक श्रेणियों की ऊंचाई है – 850-1200 मीटर के मध्य
  • उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश,  सिक्किम एवम हिमाचल प्रदेश में से हिमालय पर्वत श्रेणियां हिस्सा नहीं है – उत्तर प्रदेश का

  • लघु हिमालय स्थित है शिवालिक और महान हिमालय के मध्य में
  • पश्चिमी भाग में हिमालय की श्रेणियों का दक्षिण से उत्तर की ओर सही क्रम है शिवालिकलघु हिमालयमहान हिमालय
  • सबसे नवीन पर्वत श्रेणी है शिवालिक
  • उच्चावच आकृतियों का दक्षिण से उत्तर की ओर बढ़ते हुए सही क्रम है –  धौलाधरजास्करलद्दाख  और काराकोरम
  • हिमालय में उत्तर दिशा की ओर के क्रम वाली पर्वत श्रेणी है पीर पंजाल पर्वत श्रेणीजास्कर पर्वत श्रेणीलद्दाख पर्वत श्रेणीकाराकोरम पर्वत श्रेणी
  • हिमालय में पूर्व से पश्चिम की ओर पर्वत शिखरों का सही क्रम है –  कंचनजंगाएवरेस्टअन्नपूर्णाधौलागिरी
  • हिमालय की पहाड़ी श्रृंखला में ऊंचाई के साथ-साथ किन कारणों से वनस्पति में परिवर्तन आता है –  तापमान में गिरावटवर्षा में बदलावमिट्टी का अनुपजाऊ होना।
  • उत्पत्ति की दृष्टि से सबसे नवीनतम पर्वत श्रेणी है पटकाई श्रेणीयां (हिमालय)
  • नागालैंड, त्रिपुरा,  मणिपुर एवं मिजोरम राज्यों में से पटकाई पहाड़ियों से संलग्न नहीं है –  त्रिपुरा
  • हिमालय की पीर पंजाल श्रेणी स्थित है –  जम्मू एवं कश्मीर में
  • भारत में कश्मीर घाटी स्थित है –  वृहत हिमालय और पीर पंजाल श्रेणियों के मध्य
  • अक्साई चिन का भाग है –  लद्दाख पठार

  • भारत में सबसे प्राचीन पर्वत श्रंखला है अरावली
  • राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा एवं आंध्र प्रदेश राज्यों में से अरावली श्रेणियों स्थित है –  राजस्थान में
  • अरावली श्रेणियों की अनुमानित आयु है –  570 मिलियन वर्ष
  • ‘रेजीड्युल पर्वत’ का उदाहरण है –  अरावली
  • दक्षिण भारत की सबसे ऊंची चोटी है –  अन्नाईमुडी
  • भारतीय प्रायद्वीप की सबसे ऊंची चोटी है –  अन्नाईमुडी
  • नर्मदा एवं ताप्ती नदियों के मध्य स्थित है –  सतपुड़ा श्रेणी
  • उत्तर से शुरू कर दक्षिण की ओर पहाड़ियों का सही अनुक्रम है –  नल्लामलाई पहाड़ियां –  जवादी पहाड़ियां –  नीलगिरि पहाड़ियां –  अन्नामलाई पहाड़ियां 
  • पूर्वी घाट और पश्चिमी घाट मिलते हैं –  नीलगिरी पहाड़ियों में
  • कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु राज्य के मिलन स्थल पर स्थित है नीलगिरि पहाड़ियां
  • महादेव पहाड़ियां किसका भाग है सतपुड़ा पर्वत श्रेणी का

Post a Comment

If you have any doubt please let me know.

Previous Post Next Post